मध्यप्रदेश में सिधी हादसे के बाद एक ओर भीषण हादसा ग्वालियर में 13 लोगों की मौत

मध्यप्रदेश में सिधी हादसे के बाद एक ओर भीषण हादसा ग्वालियर में 13 लोगों की मौत

ग्वालियर बस ऑटो टक्कर में 13 की मौत
परिवहन विभाग और आर टी ओ विभाग की लापरवाही।
मध्यप्रदेश में सिधी हादसे के बाद एक ओर भीषण हादसा ग्वालियर में
ग्वालियर। ग्वालियर में आनंदपुर ट्रस्ट अस्पताल के सामने आज (मंगलवार) सुबह भीषण सड़क हादसा हो गया। ऑटो और बस की टक्कर में 13 लोगों की मौत हो गई। इनमें नौ महिलाएं और एक ऑटो चालक की मौके पर ही मौत हो गई है। जबकि तीन अन्य की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। हादसे में ऑटो के परखच्चे उड़ गए हैं।
ऑटो नंबर (एमपी07आरए2329) को बस (एमपी07पी6882) ने टक्कर मार दी। ऑटो ग्वालियर से मुरैना रोड पर चमन पार्क तरफ जा रहा था। इसमें आंगनबाड़ी के बच्चों के लिए रसोई बनाने का काम करते थे और उसी के लिए जा रहे थे। बस मुरैना से ग्वालियर आ रही थी।
ऑटो धर्मेंद्रसिंह परिहार के नाम पर है जबकि 55 सीटर बस अरुण गुप्ता के नाम पर रजिस्टर्ड है। डिटेल जानकारी आना बाकी है.
हादसे की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस आक्रोशित ग्रामीणों को समझाइश दी।
आखिर कौन जिम्मेदार 13 लोगों का
वहीं सूत्रों के मुताबिक आर टी ओ ने अपने आपको बचाने के लिये हादसे के एक घंटे बाद आर टी ओ व्हाटसएप ग्रुप पर अपनी छुटटी का आवेदन दिया लेकिन आर टी को सस्पेंड कर दिया गया है

यह परिवहन विभाग और आर टी ओ विभाग की बड़ी लापरवाही है जिसके कारण आज 13 जानें चली गई
सीधी में जो बस हादसा हुआ था जिसमें 40 के लगभग लोग नहर में बस गिरने से मारे गए थे क्यूंकि वाहन ओवरलोडेड था जिसके कुछ दिन तक तो परिवहन विभाग और आर टी ओ विभाग जागा और सड़को पर ओवरलोडेड चेकिंग अभियान भी चलाया लेकिन फिर से सोगया जिसके कारण दूसरा हादसा ग्वालियर में देखने को मिला: जो बेहद दुखद है।

इस हादसे में ऑटो में सवार 12 महिलाओं और ऑटो चालक की मौत हो गई।
सभी महिलाएं हलवाई के काम के लिये बानमौर जा रहीं थी। सुबह दो ऑटो में सवार हो कर ग्वालियर से निकली थी। एक ऑटो के ख़राब होने के बाद सभी 12 महिलाएं एक ही ऑटो में बैठ गईं और कुछ दूर पर एक यात्री बस की टक्कर हो गयी।शासन ने सभी मृतको को चार चार लाख देने की घोषणा की हैं।
एस आर पत्रिका न्यूज
रखे हर बड़ी खबर पर पैनी नज़र
युवा पत्रकार शाहनवाज खान की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *